लड़कियों के वॉशरूम में लगाया हिडन कैमरा, रिकॉर्ड किए 1200 अर्ध-नग्न वीडियो, छात्र गिरफ्तार,

अजमेर. जेएलएन मेडिकल कॉलेज के सिक्योरिटी गार्ड का शव सुबह फंदे पर झूलता देख सब स्तब्ध रह गए . बुधवार रात गार्ड चंदन सिंह मेडिकल कॉलेज की लाइब्रेरी में ड्यूटी पर था . सुबह जब ड्यूटी का समय खत्म होने के बाद दूसरा सिक्योरिटी गार्ड आया तब जाकर मामला सामने आया. सुबह मौके पर पहुंचे सिक्योरिटी गार्ड ने मामले की सूचना मेडिकल कॉलेज के अधिकारियों को दी. प्रारंभिक जांच में पुलिस ने इसे आत्महत्या का मामला बताया है.कोतवाली थाना पुलिस से पहले मेडिकल कॉलेज के अधिकारी मौके पर पहुंच गए. गार्ड का शव बालकनी से बंधी रस्सी पर झूल रहा था. मेडिकल कॉलेज के अधिकारी डॉ आरके माथुर ने बताया कि मृतक सेवानिवृत्त सूबेदार था. लंबे समय से वह मेडिकल कॉलेज में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी कर रहा था. गार्ड की जेब से उसका आई कार्ड मिला है. उसकी जेब से किसी तरह का सुसाइड नोट नहीं मिला है.पहली मंजिल पर रेलिंग से लटका हुआ था शव- कोतवाली थाना के सब इंस्पेक्टर देवाराम ने बताया कि सैनिक कल्याण बोर्ड के अधिकारी ने सूचना दी कि मेडिकल कॉलेज में सिक्योरिटी गार्ड चंदन सिंह ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. उन्होंने बताया कि मेडिकल कॉलेज की पहली मंजिल पर लगी रेलिंग से जुट की मजबूत रस्सी बांधकर फांसी के फंदे पर शव लटका हुआ था. उन्होंने बताया कि सिक्योरिटी गार्ड के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. सिक्योरिटी गार्ड चंदन सिंह के आत्महत्या के कारणों का पता नही चला है. पुलिस ने सिक्योरिटी गार्ड के शव को फंदे से उतरवाकर जेएलएन अस्पताल की मोर्चरी में पोस्टमार्टम के लिए रखवाया.
डॉ माथुर ने कहा कि कोतवाली थाना पुलिस को मामले की सूचना दे दी गई. गार्ड ने आत्महत्या क्यों की इसे लेकर वो भी सकते में हैं. उनके मुताबिक चंदन ने कभी भी किसी दुख तकलीफ की बात उनसे नहीं की थी. उन्होंने बताया कि चंदन सिंह अकेला ही अजमेर में रहकर मेडिकल कॉलेज में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी कर रहा था. उसका ड्यूटी का समय रात्रि 10 से सुबह 6 बजे तक था.

हे भगवान यह धरतीपुत्रों की कैसी परीक्षा, भूख प्यास सहन कर खाद के लिए लगा रहे है चकर पर चकर,देखिए ।

टोंक नगर परिषद द्वारा शुरू की गई अतिक्रमण हटाओ मुहिम, यू बनी राजनीति का अखाड़ा, देखिए ।

सज़ा का हुआ एलान, टोंक में रूह कपा देने वाली सजा, हर अपराधी के मन मे होगा अब भय,

गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष विजय बैंसला देर शाम झालावाड़ पहुंचे, गर्म जोशी के साथ हुआ जोरदार

स्वागत,देखिए ।

कोटा एमबीएस अस्पताल में देर रात को क्यों हुआ हंगामा महिला की मौत…… देखिए ।