“नवीन आगरा” की बेहतर तस्वीर, यह तस्वीर जसोरिया एनक्लेव फतेहाबाद रोड की है. यहां से रोज गुजरने वालों को इस नर्क का सामना करना पड़ता है. और आगरा के महापौर कहते हैं कि आगरा नवीन हो गया है. आपकी क्या राय है कि आगरा के मेयर ने शहर को “नवीन” बनाया या सिर्फ लोगों के Vote पाकर उन्हें बेवकूफ बनाया !!