सिरोही: प्रशासन ने हनुमान मंदिर हटाया, जनता ने किया पुलिस पर पथराव।

Report By: Rakesh sharma

कोटा, 23 नवंबर। बारां जिले कि कस्बा थाना पुलिस द्वारा मानवता को शर्मसार करने का मामला सामने आया है। कोटा में उपचार के दौरान सहरिया व्यक्ति की मौत होने के मामले में पुलिस को सूचना के बावजूद 30 घंटे बाद कोटा पहुची। पोस्टमार्टम के बाद महिला को पति का शव सौंपा गया। ह्युमन हेल्पलाइन कोटा की और से मृतक का शव गाँव तक लेजाने के लिए निशुल्क एम्बुलेंस और खर्चे के पैसे देकर मदद की गई।
जानकारी के अनुसार मृतक बच्चू सहरिया पुत्र फतेह सरिया निवासी गाँव बोराबाड़ी कस्बा थाना बारां को बीमारी के चलते शाहबाद से बारां अस्पताल व बारां से कोटा रेफर करने पर सोनवार रात 10:00 बजे एमबीएस अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां रात करीब 2:00 बजे बच्चु सहरिया ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। अस्पताल चौकी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने मृतक के शव को मोर्चरी में शिफ्ट करवाया और घटना की जानकारी संबंधित थाना पुलिस को दी गई।

कस्बा थाना पुलिस का मानवता को शर्मसार करने का मामला:
कस्बा थाना बारां पुलिस को सुचना के बाद मंगलवार को नर्तक की पत्नी कमलेश बाई सहरिया अपने दामाद के साथ सुबह से ही मोर्चरी के बाहर पति के शव के इन्तजार में बैठी रही। अंजान शहर में महिला को मदद नही मिलने से वह दिनभर परेशान होती रही। भूखे प्यासे मोर्चरी से अस्पताल की चौकी और अस्पताल चौकी से मोर्चरी का का चक्कर काटती रही। देखते ही देखते सूर्यास्त हो गया। लेकिन कस्बा थाने से कोई भी पुलिस कर्मी पोस्टमार्टम के लिए नही पहुचा। रात को महिला व उसके दामण ने एमबीएस अस्पताल में शरण ली।

इधर एमबीएस अस्पताल चौकी पर तैनात पुलिस जवान ने सुबह मृतक की सूचना संबंधित थाना पुलिस को दी। लेकिन थाने से कोई भी पुलिस कर्मी नही पहुचने व् पीड़ित महिला को परेशान होता देख दोपहर 1:30 बजे करीब चौकी पर तैनात जवान ने कस्बा थाना पुलिस को फिर से फोन पर सूचना दी। महिला कॉन्स्टेबल ने फोन उठाते हुए बताया कि इस संबंध में अभी तक थाने पर कोई जानकारी नहीं मिली है। जिसके बाद उन्हें दोबारा से सूचना दी गई। सूरज ढलने के बाद भी कस्बा थाने से कोई पुलिसकर्मी पोस्टमार्टम के लिए कोटा नहीं पहुंचा। शाम होने पर जब थानाधिकारी राजकुमार मीणा से इस सन्दर्भ में बात की गई तो उन्होंने 1.30 बजे थाने से पुलिस जवानों को पोस्टमार्टम के लिए कोटा भेजने की बात कही।

ह्युमन हेल्पलाइन कोटा ने बढ़ाए मदद के लिए हाथ:
मोर्चरी के बाहर पति के शव के इंतजार में परेशान सहरिया महिला की जानकारी सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद ह्युमन हेल्पलाइन कोटा के अध्यक्ष मनोज जैन आदिनाथ को घटना की जानकारी लगते ही वह तुरंत एमबीएस अस्पताल पहुंचे। अस्पताल पहुंचकर उन्होंने गैलरी में सो रही पीड़ित महिला को उठाकर बात की। महिला ने बताया कि थाने से कोई पुलिसकर्मी नहीं पहुंचा। जिसके चलते पति का शव नहीं दिया गया है पुलिस बता रही है कि थाने से कल ही पुलिस वाले पहुचेंगे। जिसके बाद पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। पीड़ित महिला ने बताया है कि सुबह से भूखी प्यासी है तथा पानी पीकर अपनी भूख मिटा रही हैं। महिला के भूखे प्यासे रहने की जानकारी लगते ही मनोज जैन आदिनाथ ने पीड़ित महिला के जमाई को भोजन के लिए पैसे दिए और निशुल्क एंबुलेंस के लिए एंबुलेंस के खर्चे के रूप में 4200 देकर महिला की मदद की। अनजान शहर में पीड़ित महिला को मदद मिलने से महिला के आंखों में आंसू छलक उठे और उसने दिल ही दिल से मदद दाता को दुआएं दी।

बुधवार को हुआ मृतक का पोस्टमार्टम:
कस्बा थाना बारां पुलिस बुधवार सुबह पोस्टमार्टम के लिए कोटा पहुची। कार्रवाई के बाद शव परिजनों को सौंपा गया। महिला को अपने पति का शव पाने के लिए 32 घंटे से अधिक का समय लगा। जिसके बाद ह्युमन हेल्पलाइन कोटा की मदद से निशुल्क एम्बुलेस से मृतक का शव उसके गाँव के लिए रवाना किया गया।

इधर ह्युमन हेल्पलाइन कोटा के अध्यक्ष मनोज जैन ने बताया कि पुलिस को सुचना के बाद 32 घंटे तक शव मोर्चरी में रख रहा । पुलिस की लापरवाह रवय्ये के कारण म्रतक की पत्नी पति का शव पाने के लिए परेशान होती रही। आज मृतक का पोस्टमार्टम कराया गया है। परिवार को आर्थिक स्थिति ठीक नही होने से महिला के पास शव को गाँव तक केजाने के पैसे नही होने से ह्युमन हेल्पलाइन की और से निशुल्क एम्बुलेंस उपलब्ध कराई गई है साथ ही हर संभव मदद का भी आश्वासन दिया है।
मनोज जैन आदिनाथ ने बताया बारां जिले में सहरिया परिवार में तबके के के लोग होते है। जो झोपड़ियों में अपना गुजर बसर करते हे। ये लोग मजदूऋ क्र रोज खाते कमाते हे। इनकी आर्थिक स्थिति बहुत दयनीय होती है। ह्युमन हेल्पलाइन इस प्रकार के लोगो की पहले भी मदद करता आया है और आगे भी मदद के लिए संकल्पबद्ध हे।

वकीलों की गुंडागर्दी, ट्रैफिक पुलिसकर्मी को कार के बोनट पर पटक पटक कर पीटा, ।

सांगोद:- युवक की परवन नदी में डूबने की सूचना पर मची खलबली, देखीए ।

रामगंजमण्डी में हुआ बड़ा हादसा 2 सगे भाइयों को मारी टक्कर, देखिए पूरी खबर

बीसीएमएचओ ने किया निरीक्षण , निरीक्षण के बाद क्या हुआ देखिए, ?

बारां में पंचायतों में बच्चों की सहभागिता के लिए यह अभियान प्रारम्भ,देखिए ।