मूलचंद शर्मा सचिव जिला कांग्रेस कमेटी बारां पहुंचे बड़ा के बालाजी धाम ।

छीपाबड़ौद ।

 

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बडां के हेलीपेड पर पहुंचें। वहां श्री पार्श्वनाथ मानव सेवा चेरिटेबल ट्रस्ट की ओर से आयोजित राजीव गांधी ग्रामीण ओलिंपिक खेलों के उत्कृष्ट खिलाड़ियों का सम्मान समारोह में शामिल हुए

वहीं हम आपको बता दें कि मूलचंद शर्मा सचिव जिला कांग्रेस कमेटी बारां ने ब्लॉक के समस्त खिलाड़ियों को पारितोषिक पुरस्कार वितरण करके खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाया । वहीं कार्यक्रम में बारां जिले से करीब एक लाख लोगों की भीड़ जनसभा में पहुंची । सी.पी.जोशी विधानसभा अध्यक्ष, श्री गोविन्दसिंह डोटासरा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष, शांति कुमार धारीवाल मंत्री नगरीय विकास एवं स्वायत्त शासन मंत्री, भजनलाल जाटव मंत्री सार्वजनिक निर्माण विभाग, अशोक चांदना खेल मंत्री, विधायक पानाचंद मेघवाल, निर्मला सहरिया समेत मंच पर विराजमान 6 दर्जन से अधिक मंचासीन अतिथियो एवं हजारों की संख्या में खिलाडियों, कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा खिलाडियों का सम्मान किया गया, जिले के विकास कार्यो का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया तथा कार्यकर्ताओं का दीपावली स्नेह मिलन समारोह मनाया गया। कार्यक्रम को मुख्यमंत्री गहलोत के अलावा मंत्री शांति कुमार धारीवाल, प्रदेश अध्यक्ष गोविन्दसिंह डोटासरा, मंत्री प्रमोद जैन भाया, भजनलाल जाटव, अशोक चांदना, जिलाध्यक्ष रामचरण मीणा, जिला प्रमुख उर्मिला जैन भाया, विधायक पानाचंद मेघवाल, निर्मला सहरिया, युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष शरद शर्मा, एनएसयूआई पूर्व अध्यक्ष हिमांशू धाकड आदि ने भी संबोधित किया। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत श्रीबड़ां बालाजी मंदिर के सामने स्थित गोशाला में पशुओं के लिए निर्माणाधीन पशु पक्षी चिकित्सालय का अवलोकन किया गया।

 

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपनी स्पीच में बोले

राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल प्रतियोगिताओं से पूरे प्रदेश में स्वस्थ्य प्रतिस्पर्धा एवं मेल मिलाप का भाव प्रबल हुआ है। इन खेलों में महिलाओं, पुरुषों, युवाओं, बुजुर्गो सहित सभी वर्गो ने खेल भावनाओं के साथ विभिन्न प्रतिस्पर्धाओं में उत्साह व उमंग के साथ भाग लिया। इससे बारां जिला भी अछूता नहीं रहा। उन्होने कहा कि राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेलों के माध्यम से प्रदेश को कई छिपी हुई खेल प्रतिभाएं मिली है जिससे आगामी दिनों में कई खिलाडी राज्य व राष्ट्रीय स्तर तक अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। जिले में श्री पार्श्वनाथ मानव सेवा चेरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष उर्मिला जैन भाया ने ग्रामीण ओलम्पिक के तहतः खिलाडियों एवं टीमों को विशेष प्रोत्साहन दिया हैं जिसके तहत ट्रस्ट के माध्यम से ग्राम पंचायत, ब्लॉक एवं जिला स्तर पर उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने वाले खिलाडियों को पुरुस्कार प्रदान किया जा रहा है। गहलोत ने कहा कि खिलाडी का नौकरी में चयन हो रहा है तथा उनका खेल कोटे से प्रमोशन भी हो रहा है। प्रतिभाओं की कोई कमी राजस्थान में नही है बस उन्हें खोजने एवं निखारने की जरूरत है। खेलों का माहौल प्रदेश में बना है। मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि 26 जनवरी को राजीव गांधी शहरी ओलम्पिक प्रतियोगिताओं का आयोजन प्रारंभ होगा