रामगंजमण्डी उपखण्ड क्षेत्र के सुकेत कस्बे के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर के पीछे अस्पताल कर्मचारियों द्वारा अस्पताल से निकली गंदगी को जलाने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि वेस्ट मटीरियल में आग लगाने के बाद जहरीला धुंआ हवा में फेल गया जिससे निकली बदबू से वार्ड में भर्ती कुछ मरीजो की तबियत बिगड़ने लगी। उसके बाद मरीज व तीमारदारो ने अस्पताल परिसर से बाहर निकल कर अपने आप को सुरक्षित किया।

अस्पताल सूत्रों के अनुसार पिछले काफी समय से अस्पताल के कचरे, प्रसव के गंदे कपड़े व अन्य वेस्ट मटीरियल को कचरा गाड़ी में डालकर भेजने की बजाय उसको अस्पताल परिसर में बनी बाउंड्री के अंदर ही जलाकर नष्ट किया जा रहा है। जिसकी कई बार शिकायत भी की जा चुकी है, लेकिन अस्पताल प्रशासन इस हरकत से बाज नही आ रहा है। जानकारी के अनुसार अस्पताल से निकला हुआ इस तरह का जानलेवा वेस्ट मटीरियल गड्ढे में डाल कर डिस्पोज करने का प्रावधान है, लेकिन अस्पताल अधिकारी व कर्मचारी इसकी अवहेलना कर लोगो की जान को खतरे में डाल रहे है। ग्रामीणों का कहना है कि लोगो की जान बचाने वाले वाले ही इस तरह दुर्घ्नध फैलाकर लोगो को बीमार करने पर तुले है इनके खिलाफ कार्रवाई होना चाहिए। ओर सख्त सजा मिलना चाहिए।