शव के पास बैठकर रातभर पिया गांजा

इतना मारा है की मबेड से उठ नही सकती

श्रद्धा के साथ उसकी हैवानियत वाली तस्वीरें आई सामने

वो न केवल श्रद्धा से मारपीट करता था बल्कि उसका मानसिक शोषण तक करता था ।

shardha merder case
shrrda aaftab

नई दिल्ली । श्रद्धा का हत्यारा आफताब की हकीकत रुह कंपाने वाली है। जल्लाद आफताब की कसाई वाली एक-एक हरकत अब सामने आ रही है। वो न केवल श्रद्धा से मारपीट करता था बल्कि उसका मानसिक शोषण तक करता था। श्रद्धा के साथ उसकी हैवानियत वाली तस्वीरें अभी सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रही है । अब श्रद्धा के वॉट्सऐप चैट सामने आया है। इस चैट में श्रद्धा किसी दोस्त से बात कर रही है और आफताब की दरिंदगी का भी जिक्र कर रही है। वो बोल रही है की आज इतना मारा है की में बेड से उठ नही सकती हु । हम आपको बता दें कि हैवान दरिंदा आफताब
श्रद्धा मर्डर केस में आरोपी आफताब ने गुड़गांव में भी शव के टुकड़े फेंके थे। आफताब ने हाईवे किनारे नेशनल मीडिया सेंटर सोसायटी के पीछे खाली जमीन में श्रद्धा के शव के टुकड़े फेंके थे। शुक्रवार को दिल्ली पुलिस की टीम यहां पहुंची और खाली मैदान में हड्डी ढूंढी। करीब 1 घंटे तक टीम यहां रही और फिर एक काले रंग की पॉलिथीन में कुछ डालकर ले गई। उधर, गुड़गांव के डीएलएफ फेज-3 थाना की टीम भी यहां पहुंची थी लेकिन दिल्ली पुलिस ने मदद लेने से इंकार कर दिया था।

sharddha murder case
crime arrest

हैवान दरिंदा आफताब
श्रद्धा मर्डर केस में आरोपी आफताब ने गुड़गांव में भी शव के टुकड़े फेंके थे। आफताब ने हाईवे किनारे नेशनल मीडिया सेंटर सोसायटी के पीछे खाली जमीन में श्रद्धा के शव के टुकड़े फेंके थे। शुक्रवार को दिल्ली पुलिस की टीम यहां पहुंची और खाली मैदान में हड्डी ढूंढी। करीब 1 घंटे तक टीम यहां रही और फिर एक काले रंग की पॉलिथीन में कुछ डालकर ले गई। उधर, गुड़गांव के डीएलएफ फेज-3 थाना की टीम भी यहां पहुंची थी लेकिन दिल्ली पुलिस ने मदद लेने से इंकार कर दिया था।
वहीं इस वारदात के बाद देश में इस ही वारदात की जोरो शोरो पर चर्चा चल रही है ।
जांच कर रही दिल्ली पुलिस ने आफताब को बीते शनिवार को हिरासत में लिया था. इसके बाद अदालत ने उसे पांच दिन की पुलिस हिरासत में सौंप दिया था. दिल्ली के साकेत की एक अदालत ने गुरुवार को आफताब को फिर पांच दिन के लिए पुलिस को सौंप दिया. पुलिस को उससे कत्ल और शव के टुकड़े करने में इस्तेमाल हथियार और श्रद्धा के शव के टुकड़ों की तलाश करनी है.

पूछताछ के दौरान इस मामले के आरोपी आफताब ने दिल्ली पुलिस के सामने कई तरह के खुलासे किए हैं. दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक आफताब बताया है कि वह गांजा पीने का आदी है. उसने बताया है कि गांजे पीने को लेकर श्रद्धा अक्सर टोका-टाकी करती थी. इस बात पर उन दोनों में झगड़ा भी होता था. आफताब ने पुलिस को बताया है कि श्रद्धा का जिस दिन कत्ल हुआ यानी 18 मई के दिन भी वो गांजे के नशे में था.

शव के पास बैठकर रातभर पिया गांजा

उसने पुलिस को बताया है कि पहले घर का खर्च चलाने और फिर मुंबई से कुछ सामान दिल्ली कौन लाएगा इस बात पर उसकी श्रद्धा के साथ लड़ाई हुई थी. इस बात पर दोनों दिन भर लड़ते रहे थे. इसके बाद आफताब घर के बाहर गया और गांजे की सिगरेट पीकर वापस आया. आफताब ने बताया वो उसने गांजे के नशे में श्रद्धा का गला इतनी तेज दबाया कि उसने सांस लेना ही बंद कर दिया. उसने बताया है कि 18 मई को रात 9 से 10 बजे के बीच उसने गला दबाकर श्रद्धा की हत्या की थी. हत्या के बाद वह रात भर श्रद्धा के शव के पास बैठा रहा और गांजे से भरी सिगरेट पीता रहा.