जयपुर । अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद का 68वां राष्ट्रीय अधिवेशन जयपुर में 25 से 27 नवम्बर को आयोजित होने जा रहा है। इस अधिवेशन में योगगुरु स्वामी रामदेव मुख्य अतिथि के रूप में सम्मिलित होंगे। अधिवेशन में देश के सभी प्रांतों से विद्यार्थी, शिक्षक और शिक्षाविदें की सहभागिता रहेगी। जिसकी तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। सम्मिलित प्रतिनिधि शिक्षा क्षेत्र में विभिन्न परिवर्तनों की समसामयिक स्थिति पर चर्चा, संगठनात्मक लक्ष्यों का निर्धारण तथा देश के अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर विचार विमर्श करेंगे। विद्यार्थी परिषद का राष्ट्रीय अधिवेशन शिक्षा और राष्ट्र जीवन से जुड़े विषयों पर विचार का गंभीर और रचनात्मक मंच है। विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री निधि त्रिपाठी ने कहा कि,वर्तमान समय में कोरोनाजनित परिस्थितियों के कारण शिक्षा क्षेत्र में व्यापक परिवर्तन देखने को मिल रहे हैं। देश में स्वास्थ्य और अर्थव्यवस्था के सभी क्षेत्रों में आत्मनिर्भरता और भारतीय मूल्यों के अनुरूप राष्ट्र पुनर्निर्माण की आवश्यकता है। स्वामी रामदेव ने भारतीय युवाओं को योग, स्वास्थ्य और अर्थव्यवस्था के स्वदेशी आदर्श से प्रेरित किया है,उनका मार्गदर्शन अधिवेशन में भाग ले रहे प्रतिनिधियों के लिए लाभप्रद सिद्ध होगा।