बेटे के मोह में घोंटा बेटी का गला: मां को आते थे बली देने के सपने ।

अंता ।

अंता कस्बे में गत दिनों हुई घटना चौकाने वाली है । जहां एक मां ने अंध विश्वास के चलते घोंट दिया । हम आपको बता दें कि कलयुगी मां अपनी नन्ही सी बेटी को

नहलाकर घसीटते हुए चौक तक लेकर आई और तोलिए से गला घोंट कर अपनी ही 13 साल की बेटी को मौत के घाट उतार दिया। वहीं पुलिस ने आरोपी रेखा हाड़ा (35) को उसके घर से ही गिरफ्तार कर लिया है।

 

यहीं नहीं हम आपको बता दें कि पुलिस पूछताछ में भी कई चौकाने वाले खुलासे सामने आए है। जानकारी अनुसार बड़े बेटे नितेंद्र सिंह (16) के मोह में रेखा ने अपनी ही बेटी संजना हाड़ा की बड़ी बेरहमी से हत्या कर दी।

वहीं सामने आया है की मां अपने बड़े बेटे से बहुत स्नेह करती थी

लॉकडाउन के बाद से ही रेखा मानसिक रूप बीमार थी। उसे हर 15 दिन में दौरे आया करते थे । नितेंद्र के दिल में छेद था। जिसका इलाज चल रहा था। रेखा को सपने आया करते थे कि अगर वो घर में से किसी की बलि दे देगी या रास्ते से हटा देगी, तो उसका बेटा नितेंद्र बिलकुल सही हो जाएगा।

सिंघम (11), नितेंद्र (16), शिवराज ( 40 ) ।

पति शिवराज को भी मारने की कोशिश की वारदात से 7-8 दिन पहले रेखा ने अपने सोते हुए पति शिवराज (40) पर भी दांतरी से हमला कर मारने की कोशिश की थी। हालांकि, शिवराज जाग गया और उसने रेखा को पकड़ लिया। शिवराज को लगा कि रेखा को दौरा आया है और उसने दौरे में ऐसा किया है। जिसके बाद रेखा ने अपने छोटे बेटे सिंघम (11) और संजना की बलि देने की ठान ली। सिंघम और संजना पर छुरी से किया हमला शनिवार को रेखा के घर पर संजना और सिंघम के सिवा कोई नहीं था नितेंद्र स्कूल गया हुआ था और शिवराज ऑटो लेकर बाहर चला गया। मौका देखकर, रेखा ने धारदार चाकू से संजना और सिंघम की बलि देने की सोची, लेकिन दोनों बच्चों ने उसके हाथ से चाकू छीनकर फेंक दिया। इस दौरान सिंघम घर से बाहर भाग गया और इसने संजना को पकड़कर दरवाजे को अंदर से बंद कर लिया। स्कूल जाने से पहले मौत के घाट उतारा

पहले नहलाया फिर गला घोंटा

दरवाजा बंद करने के बाद रेखा पहले संजना को बाथरूम में ले जाकर नहलाने लगी और वहां मारने की कोशिश की। बाथरूम से घसीटते हुए घर के संजना को चौक में लेकर आई। जहां महिला ने बड़ी बेरहमी से तौलिए से संजना का गला घोंट दिया।

चिल्लाने की आवाज सुनकर पड़ोसी आए दूसरी ओर, कमरे से निकाले जाने के बाद सिंघम जोर-जोर से रोने लगा। उसके चिल्लाने की आवाजें सुनकर पड़ोस के लोग मौके पर आ गए। सिंघम ने पड़ोसियों को बताया कि उसकी मां, बहन को पीट रही है। जिस पर लोगों ने दरवाजा खटखटाया, लेकिन दरवाजा अंदर से बंद था। लोगों ने दरवाजा तोड़ा तो अंदर संजना जमीन पर पड़ी थी, लोग उसे अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया।

अंता पुलिस उपाधीक्षक तरुण कांत सोमानी ने बताया कि संजना हाड़ा की हत्या के मामले में आरोपी रेखा हाड़ा को शिवराज की रिपोर्ट के आधार पर उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही वारदात में प्रयुक्त साफी को भी बरामद कर लिया गया है।