श्रद्धा मर्डर केस में इस वक्त की बड़ी खबर आई सामने

दिल्ली में हुए आयुषी चौधरी हत्याकांड का कनेक्शन राजस्थान से जुड़ा है। 6 दिन पहले 18 नवंबर को यमुना एक्सप्रेस-वे पर सूटकेस में युवती की लाश मिली थी। इस मामले में UP पुलिस ने चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। 22 साल की आयुषी ने 1 साल 3 महीने पहले दिल्ली में भरतपुर के एक लड़के से शादी कर ली थी।आयुषी के घरवालों को तो ये बात पता थी, लेकिन आयुषी के पति छत्रपाल बिधूड़ी के परिजन इस बात से बेखबर थे। दो दिन पहले जब इस हत्याकांड का राज खुला तब जाकर घरवालों को भी पता चला कि आयुषी हत्याकांड में जिसका नाम सामने आ रहा है, वह उनका बेटा छत्रपाल ही है।

इधर, आयुषी के मर्डर से 10 दिन पहले ही उसकी मां ने छत्रपाल को फोन पर धमकाया था कि मेरी बेटी से बात मत करना, वह तुम्हारी वजह से परेशान रहती है।आयुषी का पति छत्रपाल उर्फ अनिल बिधूड़ी वैर थाने इलाके के तौयारी गांव का रहने वाला है। अभी उसके पिता सुखदेव सिंह भरतपुर जिले में बयाना के बजरंग बिहार कॉलोनी में मकान बना रहे हैं। छत्रपाल के करीबियों ने बताया कि छत्रपाल अपनी शादी की जानकारी छिपा रहा था। वहीं आयुषी के घर वाले इस शादी से नाखुश थे।

छत्रपाल के पिता इंडियन आर्मी में थे। जहां-जहां छत्रपाल के पिता की पोस्टिंग रही, उन्होंने अपने परिवार को अपने साथ ही रखा, जिस समय छत्रपाल ने आयुषी से शादी की, उस समय छत्रपाल के पिता की पोस्टिंग दिल्ली में ही थी।

दिल्ली में छत्रपाल के दोस्त की एक गर्लफ्रेंड थी। उसकी दोस्त आयुषी थी। वह अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने जाता तो छत्रपाल और आयुषी भी साथ होते। इसी दौरान छत्रपाल और आयुषी की दोस्ती हो गई। 4 साल पहले दोनों ने अपने नंबर एक-दूसरे से एक्सचेंज किए और यहीं से दोनों के अफेयर की शुरुआत हुई।शादी के कुछ दिनों के बाद आयुषी ने तो अपने परिजनों को बता दिया, लेकिन छत्रपाल ने अपने परिजनों को नहीं बताया। आयुषी के परिजनों को शादी का पता लगने के बाद उसके घर झगड़ा होता रहता था। बताया जा रहा है कि इसी बात से नाराज आयुषी के पिता ने सीने में गोली मारकर उसकी हत्या कर दी।

अब ये भी बात सामने आ रही है कि बेटी की हत्या से 10 दिन पहले ही आयुषी की मां ने छत्रपाल को फोन कर कहा था कि वह उनकी लड़की से बात न करे, क्योंकि उसकी वजह से आयुषी टेंशन में रहती है।आयुषी की हत्या के बाद परत दर परत पूरा मामला खुलता गया। इसमें छत्रपाल का नाम भी सामने आया। छत्रपाल का नाम सामने आने के बाद उसके परिजनों को पता चलाआयुषी के पेरेंट्स इस शादी के पक्ष में नहीं थे। 17 नवंबर की दोपहर आयुषी का मां से झगड़ा हुआ। पिता को पता चला तो उन्होंने आयुषी को समझाया। वह नहीं मानी तो पिता ने गुस्से में लाइसेंसी रिवॉल्वर से आयुषी के सीने में दो गोलियां दाग दीं। उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

विधायक को डॉक्टर के ऊपर रोप जमाना पड़ा भारी, डॉक्टर बोला बुला लीजिए कलेक्टर को, नौकरी ही जाएगी, इससे ज्यादा क्या होगा?देखिए ।

शादी का खर्च वसूलने के फेर में पत्नी की निर्मम हत्या.. देखिए।

स्कूल से लौट रही सात वर्षीय बालिका से पुजारी ने किया बलात्कार।

लड़कियों के वॉशरूम में लगाया हिडन कैमरा, रिकॉर्ड किए 1200 अर्ध-नग्न वीडियो, छात्र गिरफ्तार,

JLN मेडिकल कॉलेज में फंदे से झूलता मिला सिक्योरिटी गार्ड का शव,देखिए ।