मध्यप्रदेश । अब उन सरकारी कर्मचारियों के बुरे दिन आ चुके है जो नौकरी में रहते हुए भी कोई खास योगदान नहीं कर पाए हैं या जो नौकरी के काबिल नहीं हैं। सूत्रों के अनुसार बता दे की सरकार ऐसे नकारा अधिकारियों की छटनी कर सकती है।दरअसल, मध्य प्रदेश में नौकरी करने के लिए अपात्र IAS, IPS, IFS, राज्य प्रशासनिक, राज्य पुलिस, मंत्रालय सहित दूसरी सेवाओं के अधिकारियों को चिन्हित करने के लिए दिसंबर में बैठक होनी है। इसमें 20 साल की सेवा या 50 साल से अधिक आयु के आधार पर अधिकारियों-कर्मचारियों के सेवा अभिलेखों का परीक्षण किया जाएगा। सामान्य प्रशासन, गृह सहित समेत तमाम विभागों ने अपने अधीन आने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों की जानकारी मंगाई है। जिसका परीक्षण करके प्रतिवदेन तैयार होगा और फिर अंतिम फैसला लिया जाएगा ।