पत्नी को लेने गए युवक ने ससुराल में गले में फंदा लगाकर की आत्महत्या पुलिस ने करवाया पोस्टमार्टम

कोटा

सिमलिया थाना क्षेत्र में पत्नी को ससुराल से लेने आए एक 28 वर्षीय युवक ने गले में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक का शव टापरी के अंदर साफी से गले में फंदा लगाकर लटकी हुई मिली। पीड़ित परिजनों ने आत्म हत्या की आशंका जताई है, पुलिस मामले की जांच कर रही है।

सिमलिया थाना एएसआई नंदकिशोर ने बताया कि मृतक सुरेश बेरवा पुत्र कन्हैया लाल बेरवा निवासी कैथून का रहने वाला था। जो उसकी पत्नी ममता बाई को लेने के लिए 7 नवम्बर को अपने ससुराल बलपुरा गड़ेपान आया था। लेकिन ससुराल पक्ष द्वारा उसकी पत्नी को नहीं भेजने से मानसिक तनाव में आकर युवक ने गले में फंदा लगा लिया घटना के समय मृतक के साथ ससुर खेत पर गए हुए थे। सूचना पर पुलिस ने मृतक के शव को एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया था।

मृतक के भाई ने बताया कि सुरेश बेरवा की शादी 8 साल पहले बलपुरा गांव निवासी ममता बाई से हुई थी। शादी के बाद से ही उसकी पत्नी की तबीयत खराब रहती थी जिसके चलते उसके ससुराल वाले आए दिन पैसों की मांग करते थे। 3 माह पहले सुरेश की पत्नी अपने पीहर चली गई थी सुरेश दो बार उसे लेने गया लेकिन उन्होंने नहीं भेजा जिसके बाद 7 नवंबर को वह ₹20000 लेकर अपने ससुराल गया था 8 नवंबर शाम को फोन पर घटना की जानकारी मिली कि सुरेश ने गले में फंदा लगा लिया परिजन मौके पर पहुंचे जहां उसके ससुराल में बनी 7 फीट की टापरी में गले मेरे साथी का फंदा लगाने से उसकी मौत होना पाया गया पीड़ित परिजनों का कहना है कि सुरेश आत्महत्या नहीं कर सकता। टापरी की ऊंचाई भी उसकी ऊंचाई से कम है संभव तो उसे फंदे पर लटकाया गया है।

एएसआई नंदकिशोर ने बताया कि युवक शराब का आदी था संभवत है उसकी पत्नी को नहीं भेजने के कारण मानसिक डिप्रेशन में आकर युवक ने गले में फंदा लगाया है हालाकी पोस्टमार्टम के बाद मृतक का शव परिजनों को सौंप दिया गया है पीड़ित परिजनों की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर अनुसंधान किया जा रहा है