Spread the love

धान खरीद केंद्र बघवार में धान की बोरियों में भूसी, बालू व पत्थर मिलने की शिकायत पर विभाग ने एक जांच टीम गठित करके जांच के निर्देश दिए थे। जांच के दौरान टीम को अब तक 13 प्रतिशत धान अमानक मिली है।

Sidhi

oi-Rakesh Kumar Patel

Google Oneindia News
paddy procurement center sidhi

सीधी जिले के धान उपार्जन केंद्र बघवार में अमानक धान पाए जाने की सूचना पर उमाकांत उमराव प्रमुख सचिव खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग भोपाल एवं कलेक्टर सीधी ने संयुक्त जांच दल का गठन किया. जांच टीम ने धान खरीदी केंद्र बघवार व स्लोक गोदाम रामपुर में रखे अमानक धान की जांच की। जिसमें 13 प्रतिशत धान अमानक पाया गया तथा धान की बोरियों में धान की भूसी, बालू, पत्थर भी पाये गये।

मिली जानकारी के अनुसार रामपुर नैकिन के स्लोक गोदाम में रखे धान की जांच सबसे पहले भोपाल और सीधी की जांच टीमों ने की. इसके बाद हनुमते महिला स्वयं सहायता समूह धान उपार्जन केंद्र बघवार में मिले अमानक धान की जांच की गई। इसके बाद धान खरीदी केंद्र बघवार पहुंचकर वहां रखे धान की जांच की गई। जिसमें 13 प्रतिशत धान अमानक पाया गया तथा धान की थैलियों में धान की भूसी, बालू एवं छोटे-छोटे पत्थर भी पाये गये। इतना ही नहीं धान उपार्जन केंद्र बघवार से गोदाम भेजे गए धान का वजन भी काफी कम पाया गया। कई बोरियों का वजन 30 से 33 किलो पाया गया। जिससे उक्त उपार्जन केन्द्र द्वारा अभी तक भेजे गये धान में 95 क्विंटल धान कम पाया गया।

भोपाल, सतना और सीधी के विशेषज्ञों की टीम ने धान क्रय केंद्र बघवार और स्लोक गोदाम, रामपुर नैकिन में रखे धान की जांच की. जिसमें बड़े पैमाने पर धान अमानक पाया गया। इस संबंध में भोपाल से आए आरबी एसोसिएट के क्षेत्रीय समन्वयक। मो. शकील ने बताया कि सरकार द्वारा अमानक खराब एवं बदरंग धान की सीमा 5 प्रतिशत निर्धारित की गयी है. जबकि यहां 13 फीसदी धान घटिया पाया गया। अधिकांश धान जैविक पैरामीटर्स 1 प्रतिशत के स्थान पर 4 प्रतिशत, अकार्बनिक 1 प्रतिशत के स्थान पर 5.5 प्रतिशत, क्षतिग्रस्त, बदरंग, अंकुरित एवं घुने हुए अनाज 5 प्रतिशत के स्थान पर 13 प्रतिशत, अपरिपक्व सिकुड़ा एवं मुरझाया हुआ अनाज 3 प्रतिशत के स्थान पर 7.2 प्रतिशत, अमानक पाया गया।

धान मे बालू पत्थर की मिली शिकायत पर की है जांच

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति सीधी ने बताया कि धान उपार्जन केन्द्र बघवार में शिकायत प्राप्त हुई थी कि धान की बोरियों में धान अमानक एवं बूसी, बालू व पत्थर पाये गये हैं. जिसकी जांच की जा रही है। जांच में जो तथ्य सामने आएंगे उसके अनुसार संबंधित व्यक्ति व संस्था के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

अनूप कुमार प्रजापति सर्वेयर आरबी एसोसिएट

धान खरीद केंद्र बघवार से स्लोक गोदाम भेजे गए धान में अभी भी 1200 बोरा अमानक धान गोदाम में रखा हुआ है। जिसमें काफी मात्रा में मिट्टी, बूसी, बालू मिला है। आज भोपाल, सतना सीधी के विशेषज्ञों द्वारा अमानक धान का परीक्षण किया गया, जिसमें 13 प्रतिशत धान अमानक पाया गया।

यह भी पढ़ें - MP: धान खरीदी घोटाला, केसली में धान खरीदी, जांच में निकला भूसा, 38 हजार बोरी जब्तयह भी पढ़ें – MP: धान खरीदी घोटाला, केसली में धान खरीदी, जांच में निकला भूसा, 38 हजार बोरी जब्त

Recommended Video

सीधी:धान खरीदी केंद्रों में अव्यवस्थाओं का है आलम,किसानों को हो रही भारी समस्या

English summary

Paddy purchase center Baghwar, sand in sacks, stone husk, Bhopal investigation team, sidhi news

Story first published: Monday, January 9, 2023, 19:34 [IST]

Source link