Spread the love

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के रायपुर (Raipur) में इन दिनों बागेश्वर धाम सरकार की कथा चल रही है. अंधविश्वास फैलाने और कथित चमत्कार को लेकर विवादों में घिरने के बाद बागेश्वर धाम महाराज धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री (Dhirendra Krishna Shastri) सुर्खियों में हैं. कुछ लोग उनकी आलोचना कर रहे हैं तो कुछ उनका समर्थन कर रहे हैं. धर्मांतरण (Religious Conversion) का मुद्दा भी गरमाया हुआ है. कल यानी शनिवार को बागेश्वर महाराज के दिव्य दरबार में एक मुस्लिम महिला बाबा का चमत्कार देखकर हैरान रह गई. सबसे ज्यादा हैरानी की बात तो तब हुई जब इस मुस्लिम महिला ने मंच से ही हिन्दू धर्म अपनाने की घोषणा कर दी. सुल्ताना बेगम ने लाखों की भीड़ में मंच से हिंदू धर्म अपनाया.

 

 

सनातम धर्म की तारीफ की

इस महिला ने खुले तौर पर ऐलान कर दिया कि वह हिंदू धर्म को स्वीकर करेगी. महिला ने सनातन धर्म को सबसे अच्छा बताया. इस महिला का नाम सुल्ताना है. छत्तीसगढ़ के बिलासपुर की रहने वाली यह महिला बाबा के चमत्कार से इतनी प्रभावित हुई कि उसने सनातन धर्म की जमकर तारीफ की. सनातन धर्म को सबसे श्रेष्ठ बताते हुए उसने कहा कि इसमें भाई बहन की शादी नहीं होती है. उसने कहा कि यह धर्म इसलिए सबसे श्रेष्ठ है क्योंकि यहां तलाक बोल देने से पति-पत्नि का रिश्ता खत्म नहीं होता. बाबा के दरबार में महिला ने अर्जी लगाई थी जिसके बाद वह बहुत प्रभावित हुई. उसने कहा कि वह अब हमेशा हिंदू धर्म में रहेंगी.

जानिए कौन हैं बागेश्वर धाम?

मध्यप्रदेश के धतरपुर जिले के ग्राम गड़ा में बागेश्वर धाम स्थित है। बागेश्वर धाम (Bageshwar Dham Sarkar) के प्रमुख पंडित धीरेंद्र शास्त्री (Pt. Dhirendra Krishna Shastri) भक्तों को देखकर ही बता देते हैं कि उन्हें क्या समस्या है। बागेश्वर धाम में रोजाना हजारों की तादाद में लोग दर्शन करने के लिए जाते हैं। जहां पंडित धीरेंद्र शास्त्री से मिलने के लिए लंबी- चौड़ी लाइन लगती है। और बाद में पंडित धीरेंद्र भक्तों से मिलकर एक पर्ची बनाते हैं जहां वो उनकी परेशानियों को लिख देते हैं। पंडित धीरेंद्र शास्त्री का ये अंदाज देख लोग सोशल मीडिया में हैरान हैं। दूसरे प्रदेशों से भी लोग बागेश्वर धाम को एकबार देखने आ रहे हैं।