छीपाबड़ौद –
जितेन्द्र कुशवाह
भारतीय जनता पार्टी मंडल छीपाबड़ौद के द्वारा सरकार से लहसुन की खरीद को बाजार हस्तक्षेप योजना के अंतर्गत खरीदने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री राजस्थान सरकार के नाम तहसीलदार गोकुल प्रसाद सैनी  को मंडल अध्यक्ष मुरारी लाल नागर के नेतृत्व में ज्ञापन दिया गया। जिसमें किसानों की वर्तमान हालत बहुत खराब है क्षेत्र में लहसुन का उत्पादन बहुतायत मात्रा में होता है और वर्तमान में लहसुन का भाव इतना कम हो गया है कि किसानों की लागत भी नहीं निकल पा रही है जिसके चलते किसान कर्जे में डूबता जा रहा है पहले भी लहसुन के भाव में गिरावट आई थी तब पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के द्वारा बाजार हस्तक्षेप योजना के अंतर्गत लहसुन की खरीदी की गई थी। अतः सरकार को इस पर शीघ्र ही ध्यान देकर क्षेत्र के किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए बाजार हस्तक्षेप योजना के अंतर्गत खरीद करवानी चाहिए जिससे किसानों को आर्थिक सहायता प्राप्त हो सके। क्षेत्र में बिजली व्यवस्था भी पूर्ण रूप से चरमराई हुई है क्षेत्र में बिजली की बार-बार ट्रिपिंग एवं लंबे समय तक विद्युत कटौती की समस्या बरकरार है जिससे आम जनता परेशान है क्षेत्र में पेयजल की भारी किल्लत है पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के समय वर्ष 2018 में सैकड़ों हेड पंप विधायक प्रताप सिंह सिंघवी के द्वारा विधायक कोष से स्वीकृत किये गए थे जो इस सरकार द्वारा अभी तक नहीं लगाए गए ज्ञापन के माध्यम से सरकार से मांग की जाती है कि समस्याओं का तुरंत निवारण किया जाए अन्यथा भाजपा द्वारा आंदोलनात्मक कार्यवाही की जाएगी ज्ञापन देने वालों में मंडल उपाध्यक्ष जगदीश प्रसाद कुशवाहा, महामंत्री छोटू लाल नागर, सत्य प्रकाश धाकड़, एससी मोर्चा अध्यक्ष पुष्करराज सालवी, किसान मोर्चा अध्यक्ष रामप्रसाद गुर्जर, भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष अशोक पारीक, आईटी संयोजक हितेश कुमार वैष्णव, पूर्व ओबीसी अध्यक्ष शिवनारायण नामदेव, पूर्व सरपंच इंद्रनारायण नागर, sc मोर्चा महामंत्री जितेंद्र ऐरवाल, दिलराज मीणा भैरूपुरा, बाबूलाल गुर्जर, सोनू गुर्जर, नवल किशोर वैष्णव, राजेंद्र वैष्णव, ललित गुर्जर, सत्यनारायण मेहता, कमल गुर्जर, देवकिशन मेरोटा, सुरेश गुर्जर, दिनेश गुर्जर, प्रवीण गुर्जर, गोलू वर्मा, राजेश गुर्जर, रामू गुर्जर, महेश वैष्णव, विनोद गुर्जर, लोकेश गुर्जर, बंटी गुर्जर सहित कई कार्यकर्ता उपस्थित रहे।