बारां 30 अप्रैल 2022 राजस्थान शिक्षक संघ राष्ट्रीय का एक प्रतिनिधिमंडल जिलाध्यक्ष महावीर मीणा के नेतृत्व में जिला कलक्टर नरेंद्र गुप्ता से मिला तथा शिक्षक समस्याओं का शीघ्र समाधान करवाने की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपकर वार्ता की। शिक्षक संघ राष्ट्रीय के जिलामंत्री बृजगोविंद टेलर व अतिरिक्त जिलामंत्री राजेंद्र गोचर ने बताया कि जिला कलक्टर को दिए गए ज्ञापन में मुख्य रूप से  लिखा गया कि 2012 व 2013 वाले शिक्षकों एवं प्रबोधकों ने न्यायालय के आदेश सहित समस्त प्रकार के दस्तावेजों की फाइलों को तैयार कर जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक कार्यालय में जमा करवाएं 2 वर्ष से अधिक का समय गुजर जाने के बाद भी शिक्षकों को नोशनल का लाभ नहीं मिल पाया है। अतः शिक्षकों को शीघ्र नोशनल लाभ दिए जाने के आदेश जारी किए जाएं। शिक्षकों के लंबित चल रहे 9 ,18 व 27 वर्षीय फिक्सेशन आदेश भी शीघ्र जारी करवाया जाए, 2012 की भर्ती के शिक्षकों की विद्यालय कार्य ग्रहण में मध्यांतर पूर्व एवं मध्यांतर पश्चात त्रुटी में सुधार कर इन के स्थायीकरण आदेश शीघ्र जारी करवाए जाएं, 2007, 2008 व  2009 में नियुक्त शिक्षकों व प्रबोधकों को मूल वेतन 11170 के स्थान पर ₹12900 दिए जाने के आदेश भी शीघ्र जारी किए जाए तथा कोरोना काल covid -19 की ड्यूटी के दौरान संक्रमित होकर मृत हुए जिलेभर के शिक्षकों के परिवारजनों को अनुग्रह राशि 50 लाख रुपए दिलवाए जाए आदि मांगे शामिल थी। जिला संरक्षक गिरिराज नागर व जिला सभाध्यक्ष रामकिशन नागर ने  बताया कि उपरोक्त मांगों को लेकर पूर्व में मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक व माध्यमिक, अतिरिक्त जिला कलक्टर को भी  ज्ञापन दिए जाने के पश्चात भी शिक्षकों की समस्याओं का समाधान नहीं होने के कारण  संगठन ने जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर शिक्षक समस्याओं का समाधान करवाने की मांग की । यदि शीघ्र ही शिक्षक समस्याओं का समाधान नहीं किया गया तो संगठन आन्दोलनात्मक रुख अपनाने को मजबूर होगा।जिसकी समस्त जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। ज्ञापन देने गये प्रतिनिधिमंडल में जिला वरिष्ठ शिक्षक प्रतिनिधि प्रवीण कासलीवाल, मांगरोल के अध्यक्ष महावीर मालव, कोषाध्यक्ष सतीशचंद्र तिवारी, शारीरिक शिक्षक प्रदीप मीणा, ओम प्रकाश वर्मा, राजेंद्र सिसोदिया, सुरेश सिसोदिया सहित अन्य शिक्षक शामिल थे। –