Spread the love

छबड़ा । छबड़ा   के पूर्व विधायक करण सिंह राठौड ने  अपने कार्यालय पर

गुगोर, कोटडापार के दर्जनों ग्रामीणों की परिवेदना सुनी जिसमे ग्ग्रामीणों ने अवगत करवाया की उनकी खाते की जमीन पर वन विभाग द्वारा टेंट लगवा करके कास्त नहीं करने को अवगत कराया।

पूर्व विधायक राठौड़ ने कहा कि भाजपा के विधायक द्वारा किन्हीं दो व्यक्तियों को टारगेट करने के उद्देश्य से गुुगोर और कोटडा पार के किसानों की जमीनों पर टेंट लगा कर के खेती नहीं करने दी जा रही हे।

राठौड़ ने कहा कि जिला वन अधिकारी गुप्ता जो की बारां जिले का सबसे भ्रष्ट अधिकारी है जिसके द्वारा जमकर भ्रष्टाचार कर के क्षेत्र के लोगो को परेशान किया जा रहा हे।

अन्य जो लोग सैंकड़ों बीघा वन विभाग की जमीन दबाए हुए है उन से मोटी रकम लेकर के कार्यवाही नही की जा रही है।

और जो गरीब किसान वन अधिकारी गुप्ता और उनके कर्मचारियों को मोती रकम नहीं चुकाने पर उनके यह टेंट लगाए जाकर के कास्ट नही करने दी जा रही हे।

राठौड़ ने कहा कि वन विभाग की कार्यवाही या तो सभी पर समान रूप से हो या किसी पर टारगेट कर के नहीं की जाए।

राठौड़ ने कहा कि जिले के सबसे भ्रष्ट अफसर गुप्ता की शिकायत इन सभी किसानों के साथ मुख्यमंत्री से करेंगे और इसके लिए जेल भी जाना पड़े तो पीछे नहीं रहेंगे ।

लेकिन गरीब परिवारों की रोजी रोटी के लिए उनके साथ खड़े रहेंगे ।

राठौड़ ने तहस्लीदार को जिला कलेक्टर के नाम ज्ञापन देकर के राजस्व और वन विभाग की भूमि का सीमांकन कराने और गरीब किसानो को नाजायज परेशान नहीं कराने कोंलेकर ज्ञापन दिया ।

राठौड़ ने कहा कि वन अधिकारियों की शिकायत भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो से भी करेंगे।