Spread the love

*युग सृजेता युवा सम्मेलन भेंटुआ में सम्पन्न*

*आत्म निर्माण से ही राष्ट्र का नव निर्माण संभव- डॉ० दीपक*

भेंटुआ (अमेठी)। 3मई 2022, मंगलवार को शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में भेंटुआ ब्लॉक के सभागार में ब्लाक स्तरीय युग सृजेता युवा सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन में युवा मंडल, प्रज्ञा मंडल का गठन किया गया साथ ही ‘युवाओं उठो, बढ़ो, अपने को गढ़ो’ के सत्संकल्प के साथ युवाओं ने युग निर्माण में बढ़-चढ़कर भागीदारी का संकल्प लिया।
गायत्री परिवार की ओर से जनपद अमेठी के समस्त ब्लाकों में युवा सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है।
जनपद अमेठी के युवा प्रभारी डॉ० प्रवीण सिंह दीपक ने युवाओं को लक्ष्य प्राप्त करने के लिए महत्त्वपूर्ण सुझाव दिये। उन्होंने कहा कि हमारे अंदर संभावनाओं का अथाह भंडार है किन्तु पूरी दुनिया मे सिर्फ 3 प्रतिशत लोग ही अपने लक्ष्य को प्राप्त कर पाते हैं जिसका बहुत बड़ा कारण है कि वे लोग न सिर्फ बड़े सपने देखते हैं बल्कि उन्हें पूरा करने के लिए पूरी तन्मयता और एकाग्रता के साथ उन मार्गों पर चलते है। आज युवा दिग्भ्रमित है, फटाफट सफलता की चाह में वो कई मार्गों पर चलने का प्रयास करता है और जब तक उसे समझ आता है कि उसका मार्ग गलत है बहुत देर हो जाती है। परिणामस्वरूप वो मानसिक अवसाद का शिकार होता है। ऐसे में गायत्री परिवार का युवा जागरण अभियान युवाओं को रचनात्मक, सृजनात्मक कार्यों से जोड़कर उनकी दिशा और दशा को सही कर राष्ट्र के नव निर्माण का मार्ग है। डॉ० सिंह ने आज परिवार की बिगड़ती दशा का चित्रण करते हुए ‘मेरी आंखों का तारा ही, मुझे आंखे दिखाता है’ मुक्तक के माध्यम से वर्तमान में घर में बूढ़ी माँ की बेबसी का जिक्र करते हुए युवाओं को गायत्री परिवार के व्यक्ति निर्माण, परिवार निर्माण, समाज निर्माण के मिशन को अपनाने का आवाहन किया। उन्होंने कहा कि आत्म निर्माण से ही राष्ट्र का नव निर्माण संभव है।
अमेठी जिला समन्वयक डॉ त्रिवेणी सिंह ने कहा कि सर्वप्रथम हम स्वयं सुधरे फिर दूसरों को सुधारने में अपनी ऊर्जा लगाएं। उन्होंने उपस्थित युवाओं का आवाह्न करते हुए कहा कि अपने साथियों को भी सृजनात्मक कार्यों से जोड़ने की प्रेरणा दें। गायत्री परिवार की सप्त क्रांतियों से जुड़कर इस दुनिया को और बेहतर बनाने के लिए युवा आगे आएं। उन्होंने अच्छी संगति व अच्छी पुस्तकों के अध्ययन को अपनी दिनचर्या में शामिल करने की बात कही।
वरिष्ठ परिजन राधेश्याम तिवारी ने युग निर्माण मिशन के उद्देश्य मानव में देवत्व का उदय और धरती पर स्वर्ग का अवतरण की चर्चा की। उन्होंने परम् पूज्य गुरुदेव के जीवन, उनकी साधना, उनके पुरुषार्थ और तपश्चर्या पर प्रकाश डालते हुए वर्तमान में सदबुद्धि के मंत्र गायत्री की उपासना करने की प्रेरणा दी।
सम्मेलन को राज करन सिंह, आशीष ओझा, के०के० सिंह, अनूप पाठक ने भी संबोधित किया।
इस अवसर पर उपस्थितजनों ने गायत्री मंत्र लेखन का संकल्प लिया तथा गायत्री परिवार के संगठन का विस्तार करते हुए युवा मंडल ,प्रज्ञा मंडल, महिला मंडल का गठन किया गया। महिला मंडल की पूनम बाला सिंह, दुर्गावती सिंह, चेतना तिवारी सहित सभी मंडलों के सदस्यों ने युग निर्माण योजना को जन-जन तक पहुंचाने का संकल्प लिया।
भेंटुआ ब्लॉक के युवा समन्वयक डॉ० धर्मेंद्र तिवारी ने कार्यक्रम का सफल संचालन करते हुए अंत मे सभी का आभार व्यक्त किया।
इस मौके पर शत्रुध्न सिंह, गया प्रसाद तिवारी, प्रधान गैरिकपुर जगन्नाथ तिवारी, हीरापुर प्रधान विजय तिवारी, सुरेश सिंह, कमलेश सिंह फौजी, अजीत सिंह, सुमित साहू, कुलदीप सिंह, कन्हैया लाल, महेश चंद्र, हरिकेश सिंह, इंद्रभान तिवारी, राजेन्द्र सिंह, अंकुर सिंह सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित रहे।