आज 03.05.2022 , मंगलवार को काठिया बाबा आश्रम पर भगवान परशुराम की पूजा अर्चना कर प्राकट्य दिवस धूमधाम से मनाया विष्णु के अवतार परशुराम ने पाप का अंत कर धर्म की स्थापना की आज का दिन महत्वपूर्ण है जिसकी जानकारी आश्रम के आचार्य परमानंद गुरुजी ने दी
आज ही के दिन माँ गंगा का अवतरण धरती पर हुआ था भगवान परशुराम जी का आज ही के दिन धरा पर अवतरण (जन्म) हुआ था
माँ अन्नपूर्णा का जन्म भी आज ही के दिन हुआ

सतयुग और त्रेता युग का प्रारम्भ आज ही के दिन हुआ था
ब्रह्मा जी के पुत्र अक्षय कुमार का अवतरण भी आज ही के दिन हुआ था
प्रसिद्ध तीर्थ स्थल श्री बद्री नारायण जी का कपाट आज ही के दिन खोला जाता हैअक्षय तृतीया अपने आप में स्वयं सिद्ध मुहूर्त है कोई भी शुभ कार्य का प्रारम्भ किया जा सकता है प्राकट्य दिवस के अवसर पर भक्त मंडल परिवार के सभी भक्तजन मौजूद रहे इसके पश्चात सभी भक्तजनों ने गौ माताओं को लड्डू चूरमे का भोग लगाया।