Spread the love

सीसवाली – विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान द्वारा संचालित आदर्श विद्या मंदिर में दुर्गाष्टमी का उत्सव हर्षोल्लास के साथ मनाया गया l शिशुवाटिका प्रमुख चेतना बंसल व प्रधानाचार्य सत्यनारायण मेघवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अर्पित खण्डेलवाल पूर्व छात्र, विशिष्ट अतिथि शिवप्रसाद खण्डेलवाल उपाध्यक्ष व अध्यक्षता देवीलाल प्रजापति विद्यालय समिति सदस्य ने की l देवीलाल प्रजापति ने भैया बहिनों को बताया कि भारतीय संस्कृति में चैत्र मास के नवरात्रों का बड़ा ही महत्व है l माता के नवरात्रों में नो दिन उपहास करके मां दुर्गा की उपासना की जाती है।नवरात्रा के आठवें दिन माता के आठवें स्वरूप महागौरी की पूजा करने से सुख समृद्धि की प्राप्ति होती है l विद्या मंदिर की नन्हीं नन्हीं बालिकाओं ने माता का वेश धारण कर नव दुर्गा की जीवन्त झांकी सजाई।अतिथियों ने माता का वेशधारी कन्याओं का कन्या पूजन किया l शिशुवाटिका की बहिनों ने माता के भजन पर डाण्डिया नृत्य किया l इस अवसर पर बहिन नेहा शर्मा व उर्विका नामा का जन्मदिन वैदिक मंत्रोच्चार के साथ भारतीय संस्कृति के अनुरूप मनाया l अतिथियों ने माता के वेशधारी बहिनों को सम्मानित किया l महाआरती,शांति मंत्र व प्रसाद वितरण के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।इस अवसर पर भंवर लाल कहार, तोलाराम मीणा, भारती नामा, राधे रानी राठौर व अक्षता नामा आदि आचार्य दीदियां उपस्थित थी।