Spread the love

झालावाड़ 19 अप्रेल। पंचायती राज विभाग राजस्थान जयपुर के निर्देशों की पालना में पीएमकेएसवाई 2.0 (जलग्रहण घटक) योजनान्तर्गत राज्य में वित्तीय वर्ष 2021-22 में कुल 145 परियोजनाओं की प्रशासनिक स्वीकृति भू-संसाधन विभाग, ग्रामीण विकास मन्त्रालय भारत सरकार द्वारा जारी की जा चुकी है।
जिला परिषद् के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्रीनिधि बीटी ने बताया कि स्वीकृत जलग्रहण परियोजनाओं के क्रियान्वयन हेतु जारी गाईडलाईन के अनुसार प्रत्येक ग्राम पंचायत में जलग्रहण समिति का गठन किया जाना है। जलग्रहण समिति के गठन तथा अध्यक्ष एवं सचिव के चयन के संबंध में मुख्य कार्यकारी अधिकारी एसएलएनए एवं निदेशक जलग्रहण विकास एवं भू-संरक्षण राजस्थान जयपुर द्वारा दिशा-निर्देश जारी किये गये हैं।
झालावाड़ जिले में पंचायत समिति अकलेरा, बकानी, डग व पिड़ावा में 4 परियोजनाएं स्वीकृत हुई है। चारों पंचायत समितियों की 20 ग्राम पंचायतों में जलग्रहण समिति का गठन किया जाना है, स्वीकृत परियोजनाओं में जलग्रहण समितियों के गठन हेतु 25 से 28 अप्रेल 2022 के मध्य निर्धारित तिथियों में प्रातः 10 बजे से विशेष ग्रामसभाओं का आयोजन कर ग्राम पंचायतों में जलग्रहण समिति का गठन संबंधित परियोजना क्रियान्वयन एजेन्सी के मार्गदर्शन में सम्पादित करवाया जाएगा।
इन ग्राम पंचायतों में होंगी विशेष ग्राम सभाएं
जलग्रहण परियोजनाओं के क्रियान्वयन के लिए 25 अप्रेल को ग्राम पंचायत तुरकाड़िया, बड़बड़, रिझोन, चौमहला एवं सलोतिया में, 26 अप्रेल को ग्राम पंचायत खारपा, देवनगर, करलगांव, पारापीपली व सामरिया में, 27 अप्रेल को ग्राम पंचायत थरौल, झिझनिया, सलावद, पाडलिया व सिरपोई में तथा 28 अप्रेल को ग्राम पंचायत मैठून, नसीराबाद, रनायरा, तलावली व सुनेल में जलग्रहण समितियों का गठन हेतु ग्राम सभाओं का आयोजन किया जाएगा।
—00—