Spread the love

चेतावनी के बावजूद भी नहीं सुधरी पेयजल व्यवस्था

   **********************

*सोमवार को भी बदबूदार पानी का वितरण*

*************************

*सिविल लाइंस में ही यह हालात तो फिर शहर का क्या होगा ?*

************************

*मंगलवार तक व्यवस्था सुधारने की चेतावनी दी भाजपा ने*

*************************

 

बारां 25 अप्रैल | जिला मुख्यालय के अधिकांश क्षेत्रों में जलदाय विभाग द्वारा वितरित किए जा रहे दूषित पेयजल को लेकर भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष जगदीश मीणा एवं पूर्व विधायक व जिला महामंत्री रामपाल मेघवाल तथा शहर अध्यक्ष महावीर नामा ने विभाग के अधीक्षण अभियंता को मंगलवार तक व्यवस्था को सुचारू करने की चेतावनी दी है | उन्होंने अधिकारियों को दो टूक शब्दों में कहा है कि दूषित पेयजल की सप्लाई से परेशान आम नागरिकों के लिए व्यवस्था में सुधार नहीं किया गया तो व्यापक आंदोलन किया जाएगा|

भाजपा मीडिया विभाग के जिला प्रमुख राजेंद्र शर्मा एवं शहर प्रवक्ता सचिन सनाढ्य ने बताया कि शहर की जनता लगभग 1 माह से बदबूदार पानी पीने को मजबूर हो रही है कई बार जलदाय विभाग को इस बाबत सूचित किया गया | परंतु अधिकारियों ने हमेशा टालमटोल की स्थिति और टूटी- फूटी पेयजल लाइनों का बहाना बनाकर समस्या के निवारण की जगह बहाना बनाकर इतिश्री कर ली जिसके चलते अधिकांशत नागरिकों में आक्रोश व्याप्त है| बल्कि कई बार तो अधिकारी फोन ही नहीं उठाते हैं |इस समस्या के संदर्भ में भाजपा जिलाध्यक्ष जगदीश मीणा एवं जिला महामंत्री व पूर्व विधायक रामपाल मेघवाल तथा शहर अध्यक्ष महावीर नामा ने कहा है कि जलदाय विभाग के अधिकारी शुद्ध पेयजल वितरण व्यवस्था के लिए कभी टूटी- फूटी लाइनों का बहाना बनाते हैं और कभी पर्याप्त मात्रा में बिजली नहीं पहुंचने का|

कभी सीवरेज के लिए खोदी गई लाइनों का, तो कभी गैस पाइपलाइन के लिए खुदाई की गई नालियों का बहाना बना लेते हैं| उन्होंने कहा कि आश्चर्य की बात तो यह है कि विभाग द्वारा स्वयं की मॉनिटरिंग कहीं भी नजर नहीं आती है| भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष हेमराज मीणा ने कहा कि ग्रीष्म ऋतु आने से पूर्व विभाग को अग्रिम तैयारियां पूर्ण कर लेनी चाहिए थी, जबकि गंदला पानी आने की शिकायत गर्मी आने से पूर्व में भी थी आम लोग जलदाय विभाग को बार-बार इस बाबत सूचित करते रहते हैं लेकिन वास्तविकता यह है कि विभागीय कार्यवाही नगण्य होती है| भाजपा युवा मोर्चा के पूर्व जिला अध्यक्ष मुकेश केरवालिया एवं नगर परिषद में प्रतिपक्ष के नेता दिलीप शाक्यवाल ने भी बदबूदार पेयजल वितरण की शिकायत को शहर वासियों के लिए महत्वपूर्ण समस्या बताते हुए कहा कि समय रहते सूचित करने के बावजूद भी जलदाय विभाग हरकत में नहीं आया है| फलस्वरूप बीमारियां पनपने का अंदेशा बन गया है| भाजपा नेता जयेश गालव ने बताया कि जलदाय विभाग की लापरवाही के चलते हालात यह बन गए हैं कि सिविल लाइंस जैसे इलाकों में ही बदबूदार पानी आने की शिकायत आम है तो फिर शहर की अन्य बस्तियों के हालात क्या होंगे| उन्होंने कहा कि सोमवार 25 अप्रैल को भी शहर के अनेक इलाकों से बदबूदार पेयजल वितरण होने की शिकायतें की गई है |भाजपा जिला पदाधिकारी अशोक बत्रा,हरगोविंद जैन ब्रह्मानंद शर्मा ,सुरेंद्र गालव, राकेश जैन निर्मल माथोड़िया, गोविंद सिंह चौहान, प्रवीण शर्मा, रघुराज सिंह केदाहेडी, सत्येंद्र सिंह कैदाहेड़ी, अविनाश खंडेलवाल, शिवा शर्मा, श्याम वैष्णव, एडवोकेट सुनील यादव एवं महिला मोर्चा जिला अध्यक्ष श्रीमती राजेश हाड़ा पूर्व जिला अध्यक्ष श्रीमती चित्रा जैन ,श्रीमती सीमा शर्मा, श्रीमती मैना गौड, देवेंद्र शर्मा जस्सू , पार्षद परमानंद सोनी , धर्मेंद्र भार्गव , अंतूरानी शर्मा ,पद्मा शर्मा, निकलेश शर्मा, सिद्धार्थ शर्मा, अशफाक भाई, इकबाल नेता, मुन्ना भाई, योगेश शर्मा, योगेश गौतम ,योगेश राजोरा एडवोकेट हरिओम मेरोठा, चौथमल धाकड़ आदि ने जलदाय विभाग की लचर कार्यप्रणाली की निंदा की|