Agra खुद को स्थापित करने या कोई अन्य दिक्कत के चलते उम्र निकलने के बाद उम्रदराज कुंवारों को दूल्हा बनाने के नाम पर ठगने वाला लुटेरी दुल्हनों का गैंग आगरा में सक्रिय है। बीते दस दिनों के अंदर दो दूल्हों को लुटेरी दुल्हनों द्वारा ठगने के बाद फरार होने का मामला सामने आया है। दोनों ही मामलों में दूल्हों की उम्र अधिक होने के कारण बिचौलियों के द्वारा अनजान परिवार में शादी तय करवाई गई थी। आगरा के थाना एत्माउद्दौला क्षेत्र के एक होटल में बिचौलियों द्वारा एक लाख रुपए लेकर अलीगढ़ के युवक की शादी कराने के बाद कोर्ट मैरिज के दौरान दुल्हन गहने और नकदी लेकर फरार हो गई। परेशान दूल्हे ने बिचौलियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। दूल्हे का आरोप है कि वहां उसकी तरह चार शादियां कराई गईं थीं और यह लोग गैंग बनाकर ठगी का काम कर रहे हैं। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है।

ताजा मामला आगरा के थाना एत्माउद्दौला अंतर्गत त्यागराज होटल का है। मूल रूप से मथुरा और वर्तमान में अलीगढ़ के रहने वाले मोहन ने अलीगढ़ निवासी वीरपाल, संजय और आगरा के टेढ़ी बगिया निवासी बंटी के जरिए एक लाख रुपए देकर रिश्ता तय करवाया था। तीनों आरोपियों के साथ शीतल नामक महिला ने उन्हें बनारस की रहने वाली पूजा शर्मा से मिलवाया था। युवती को गरीब बताकर उसकी शादी मोहन से तय करवा दी गई थी। 24 अप्रैल को होटल के हॉल में दोनों का विवाह संपन्न हुआ। कोर्ट से हुई फरार

पीड़ित दूल्हे मोहन ने बताया रात साढ़े ग्यारह बजे फेरों की रस्म हो गई। भोजन आदि के पश्चात सुबह साढ़े तीन बजे दुल्हन को विदा कराकर अलीगढ़ ले गए। शादी को कनूनी मान्यता देने के लिए पत्नी को लेकर अलीगढ़ न्यायलय पहुंचे। यहां लिखा-पढ़ी के बीच अचानक दुल्हन ने टॉयलेट जाने को कहा और फरार हो गई। दुल्हन अपने साथ पांच हजार रुपए नकद, पायल और सोने की चेन भी ले गई है
पीड़ित दूल्हे ने पुलिस से की शिकायत

दूल्हे के अनुसार, दुल्हन के भागने की शिकायत पर बिचौलिया बंटी ने आगरा आकर रुपए वापस ले जाने को कहा और फिर जब हम शादी वाले होटल पहुंचे। उसने हमें पूरी रात बरगलाया और सुबह पैसे देने से इंकार कर दिया। जिस होटल में शादी हुई थी उसे बिचौलिए अपने रिश्तेदार का होटल बता रहे थे। यहां उसके अलावा और तीन से चार शादियां हुई थीं, उनके बारे में भी पता किया जाना चाहिए। एसओ एत्माउद्दौला सत्यदेव शर्मा के अनुसार मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद विधिक कार्रवाई की जाएगी। एक साल में आए कई मामले

बता दें कि आगरा में लुटेरी दुल्हनों का यह नया कारनामा नहीं है। बीते वर्ष पिनाहट कस्बा क्षेत्र में दो भाइयों ने बिचौलिए के जरिए शादी की थी और सुबह शौच के बहाने दोनों फरार हो गईं थीं। आठ माह पूर्व टेढ़ी बगिया क्षेत्र में नई दुल्हन ससुरालीजनों को चाय में नींद की दवा मिलाकर पिलाने के बाद गहने आदि लेकर फरार हुई थी।

बीते वर्ष कमलानगर निवासी एक ऑटो चालक ने अपनी मां की देखभाल के लिए फिरोजाबाद की युवती से शादी की थी। दस दिन बाद दुल्हन डेढ़ लाख नकद और सारे गहने लेकर अपने कथित भाई के साथ फरार हो गई थी। पुलिस अभी तक दुल्हन की तलाश नहीं कर पाई है।