कोरोना की नई लहर की आशंका के बीच सरकार ने अब 6 से 12 साल के बच्चों को कोरोना वैक्सीन लगाने का फैसला किया गया है।

स्कूल खुलने पर बढ़ोत्तरी की आशंका

कोरोना की पिछली लहरों में बच्चों पर ज्यादा खतरा नहीं हुआ था लेकिन इस बार बच्चे इस एक्सई वैरिएंट की चपेट में आ रहे हैं। खासतौर पर स्कूल खुलने के बाद इसमें और बढ़ोत्तरी की आशंका जताई जा रही है।

एक्सई वैरिएंट, कोरोना के लक्षण काफी माइल्ड

विशेषज्ञों का कहना है कि बच्चों में फ्लू जैसे लक्षणों मे तेजी आई है। विशेषज्ञों का कहना है कि बच्चों को कोरोना होता भी है तो माता-पिता को घबराने की जरूरत नहीं है। कोरोना के लक्षण काफी माइल्ड हैं। हालांकि सही समय पर इलाज और पहचान जरूरी है।

एक्सई वैरिएंट के लक्षण

-गले में दर्द का होना

-शरीर में दर्द का होना

-नाक का बहना

-सूखी खांसी

-उल्टी आना

-लूज मोशन (दस्त)